May 29, 2024

Peanut Farming : ऐसे मूंगफली की करे उन्नत खेती, कम लागत में होगा अधिक मुनाफा, दो साल में बन सकते है अमीर

Share Post

Peanut Farming : आज की यह पोस्ट उन सभी किसान भाइयो के लिए फायेदेमंद होने वाली हे जो बारिश मे मुगफली की खेती करने वाले हे आज की इस पोस्ट मे हम आपको बताएगे की आप केसे मुगफली की उन्नत किस्मों से लेकर बुवाई के आधुनिक तरीकों से मुगफली की अच्छी खेती कर सकते हे ओर मुगफली की फसल से अच्छा मुनाफा कमा सकते हे । इस पोस्ट मे मुगफली की खेती से जुड़ी समस्त जानकारी आपसे साझा करेगे ।

Peanut Farming : मुगफली की खेती हो या कोई किसी भी प्रकार की अन्य फसल उसके लिए सबसे पहले उपयुक्त जलवायु की आवश्यकता होती है , अगर आप मुगफली की अच्छी फसल चाहते हे तो सबसे पहले आपको यह चेक कर लेना हे की मुगफली के लिए जलवायु अनुकूल हे या नही । आप सभी को बता दे की मुगफली एक तिलहन फसल हे , इसकी खेती लगभग सभी राज्यो मे की जाती हे ।

Peanut Farming : मुगफली की खेती करने के लिए आपको खेत मे तीन से चार बार जुताई करनी चाहिए । जुताई मिट्टी पलटने वाले हल से करोगे तो ओर भी बढ़िया हे , जुताई करने के बाद खेत मे नमी बनाए रखने के लिए आपको पैटी लगाना बहुत ही जरूरी हे ।

मूंगफली के रोग

आपकी जानकारी के लिए बता दे की मुगफली को कई प्रकार के रोगो का प्रकोप रहता हे , जिसमे टिक्का रोग इस रोग से पत्तियों मे धब्बे पड़ जाते हे । जिससे पतीया पकने से पहले ही जड़ने लगती हे । इन रोगो से छुटकारा पाने के लिए आपको 200 ग्राम कार्बेन्डाजिम रसायन मे 100 लीटर पानी मिलाकर 15 दिन के अंतराल मे इसका छिड़काव करना हे ।

फसल की कटाई कब करें

मुगफली फसल की कटाई आपको तब करनी हे जब पत्ते पूरी तरह से पाक जाए ओर पत्ते अपने आप गिरने लग जाए ओर फली सख्त ओर दाने गहरे हो जाए तब आपको फसल की कटाई करना हे ।

इन बीजो का करे उपयोग
मूंगफली की खेती के लिए आप आर.जी. 425, 120-130, एमए 10 125-130, एम-548 120-126, टीजी 37ए 120-130, जी 201 110-120 प्रमुख हैं. इनके अलावा मूंगफली की अन्य किस्म एके 12, -24, जी जी 20, सी 501, जी जी 7, आरजी 425, आरजे 382 जैसे बीजो का उपयोग कर सकते है

 

यह भी पढे :- 

LIC Scheme :- एलआईसी की इस स्कीम ने मार्केट मे मचाया तहलका, पोस्ट ऑफिस से अधिक दे रही रिटर्न

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *