April 15, 2024

Afim News : अफीम किसानो को रहने होगा सजग, फसल को बचने के लिए कर रहे सन्तान की तरह सुरक्षा, देखे ये पूरी रिपोर्ट

Share Post

Afim News : मालवा में अफीम को माता कालिका का रूप माना जाता है साथ ही इसे काला सोना भी कहा जाता है इसको लेकर सरकार भी बेहद संवेदनशील है इसे में सरकार किसानो से एक एक ग्राम का हिसाब लेती है

Afim News : अभी अफीम की फसल पक कर तेयार हो गई है और किसानो को अफीम की बुवाई से लेकर जब तक खेत से ना निकल जाये तब तक किसानो की काफी चिंता होती है इसे में किसानो को डोडे चोरी होने की भी घटनाएं होती रहती है अगर किसानो का एक डोडा भी चोरी हो जाये तो उसकी भरपाई के लिए किसानो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है |

अफीम की फसल में होती है बहुत परेशानी
Afim News : अफीम की फसल काफी नुजुक फसल होती है इसे में फसल पककर तेयार करने तक में किसानो को काफी परेशानी होती है अफीम कु बुवाई के समय में किसानो को फसल में अनेक रोज लगने की चिंता होती है जिसको लेकर किसान कीटनाशकों का प्रयोग करते है लेकी कई बार मौसम में बदलाव होने के कारण फसल ख़राब होने का डर भी रहता है इसी तरह की मुस्किलो के बावजूद किसान फसल की बुवाई करते है |

लालच के चक्कर में कर लेते चोरी
Afim News : किसान अफीम की फसल को अपनी सन्तान की तरह पलते है जिसके बाद सरकार उत्पादन को लेती है लेकिन कुछ लालची लोग किसानो की महनत पर पानी फेरने से नही चुकते है और कई बार किसानो के डोडे चोरी कर तो कई बार किसानो की फसल को नष्ट कर देते है |

अफीम की करनी पड़ती रात को रखवाली
Afim News : अफीम की फसल को चोरों और अवैध असामाजिक तत्वों से सुरक्षा करने के रात भर पहरा देते है किसान फसल को चोरी होने को लेकर लाठी डंडों से रातभर रखवाली करते है |

 

जोखिम भरी होती है खेती
Afim News : अफीम के किसानो को समाज में रुतबे और सम्मान की नज़र से देखा जाता है और लोग किसानो को सम्मान और शान शौकत से रहते है लेकिन इस फसल में काफी जोखिम भी होता है और अफीम की फसल को हर कोई नही कर सकता है इसको बोने के लिए सरकार से लाइसेंस लेना होता है उसके बाद रोजाना गांव के मुखिया के पास जाकर अफीम उत्पादन का हिसाब देना होता है और एक निश्चित तय दिन पर सरकार द्वारा अफीम किसानों से जमा की जाती है।

 

Disclaimer – इस लेख में दिखाई जानकारी अलग अलग वेबसाइट, न्यूज़ चेनल और सूत्रों के माध्यम से ली गई है हम इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करते हैं। किसी कारणवश कोई सूक्ष्म मानवीय अथवा मशीनी त्रुटि संभव हो सकती है इस लिए कुछ भी होने पर todaymandibhav.net जिम्मेदार नही है |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *