April 18, 2024
MP Weather

MP Weather : किसानो को मिली बारिश आने से राहत ,मौसम विभाग ने सितंबर महीने में इन जिलों में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई

Share Post

MP Weather : किसानो को मिली बारिश आने से राहत ,मौसम विभाग ने सितंबर महीने में इन जिलों में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई आज हम आपको इस पोस्ट में मौसम से जुड़ी पूरी जानकारी देंगे अपने शहर का ताजा मौसम अपडेट जाने के लिए इस पोस्ट को जरूर पढ़ें

मध्य प्रदेश में अगस्त का सूखा सितंबर पूरा कर रहा है। अगस्‍त माह में जहां बारिश औसत से बेहद कम हुई तो वहीं सितंबर की शुरुआत से ही मानसून प्रदेश में मेहरबान है और प्रदेश के लगभग सभी क्षेत्रों में कहीं तेज तो कहीं रिमझिम बारिश का दौर शुरू हो चुका है। इस बारिश के कारण न सिर्फ सोयाबीन, धान और मक्का की फसल को फायदा होगा, बल्कि किसानों को भी इससे खासी राहत मिली है।

इंदौर शहर में करीब 18 दिन बाद मेघ मेहरबान है। शहर के पूर्वी हिस्से के मुकाबले पश्चिमी हिस्से में ज्यादा बारिश हुई। सितंबर में इस सीजन में पहली बार अच्छी बारिश हुई। बारिश के कारण दिन के पारे में भी गिरावट देखने को मिली।

MP Weather
sources by youtube

MP Weather : किसानो को मिली बारिश आने से राहत ,मौसम विभाग ने सितंबर महीने में इन जिलों में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई

भोपाल स्थित मौसम केंद्र के मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक वर्तमान में दक्षिणी उड़ीसा के अंदरुनी हिस्से में 7.6 किलोमीटर की ऊंचाई पर चक्रवाती हवाओं का घेरा बना है। मानसून द्रोणिका लाइन बीकानेर, गुना, मंडला, रायपुर होते कलिंगपट्टनम तक जा रही है। इन दोनों सिस्टम के कारण इंदौर में अगले तीन से चार दिन मध्यम से तेज बारिश की संभावना है। इसके अलावा कुछ हिस्से में बारिश तेज बौछारे भी पड़ेगी।

बैतूल में मानसून सक्रिय

बुधवार सुबह से बैतूल सहित जिले के अन्य हिस्सों में तेज बारिश शुरू होने से किसानों के चेहरे खिल गए हैं। मानसून के रूठ जाने से खरीफ सीजन की फसलें मुरझाने लगी थीं। बुधवार सुबह आठ बजे तक बैतूल में 6.1 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

read more: TVS X Electric Scooter : लल्लनटॉप फीचर्स और जबरदस्त माइलेज के साथ आ गई आपके बजट में Tvs की इलेक्ट्रिक स्कूटर, जाने कीमत

वहीं किसानों का कहना है कि यदि कुछ दिन वर्षा नही होती तो फसलें सूख जाती और किसानों को कर्ज के दलदल में फंसना पड़ जाता। अब भले ही देर से बारिश शुरू हुई है लेकिन सोयाबीन और मक्का की फसल से कुछ पैदावार की उम्मीद तो है। इस सीजन में अब तक जिले में कुल 725 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी है। पिछले वर्ष इस अवधि में 1382 मिमी वर्षा हुई थी। औसत सामान्य वर्षा 1083.9 मिमी है। मौसम केंद्र द्वारा जारी की गई जानकारी के अनुसार पूरे सप्ताह अच्छी वर्षा होने के आसार हैं।

MP Weather : किसानो को मिली बारिश आने से राहत ,मौसम विभाग ने सितंबर महीने में इन जिलों में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई

MP Weather
sources by youtube

छतरपुर में जारी रहेगा बारिश का दौर

छतरपुर में बुधवार को सुबह से ही बादल छाए और दोपहर के बाद से बरसने शुरू हो गए। करीब दो घंटे तक शहर सहित ग्रामीण अंचल में बारिश होती रही। बारिश होने से किसानों की मूंगफली, तिल, पिपरमेंट, उड़द की फसलों को राहत मिली है। मौसम विभाग के अनुसार सिस्टम बना हुआ है, इसलिए अभी बारिश होती रहेगी। बीते दो दिन से शहर सहित बिजावर बड़ामलहरा, लवकुशनगर, हरपालपुर, चंदला आदि क्षेत्रों में जमकर बारिश हो रही है।

जिले में इस बार सीजन में पिछले साल के अपेक्षा कम ही बारिश हुई है। अभी 28 मिमी औसत बारिश से कम है। बारिश का सीजन शुरू होने से पांच सितंबर तक 597 मिमी बारिश हुई है। जबकि औसत बारिश 800 मिमी के करीब है। अगर इसी तरह बादल मेहरबान रहे तो बारिश का आंकड़ा बदल सकता है।

नर्मदापुरम में भारी बारिश का अलर्ट जारी

नर्मदापुरम जिले में दो दिन से हो रही बारिश ने किसानों को राहत दी है। 24 घंटे में जिले के कई इलाकों में बारिश हुई है वहीं मौसम विभाग ने भारी वर्षा का अलर्ट जारी किया है। नर्मदापुरम में गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावना जताई जा रही है।

मौसम विभाग के मुताबिक 12 सितंबर से नया सिस्टम एक्टिव होने जा रहा है। बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती हवाओं का घेरा बनने की बात सामने आ रही है जिसके कारण तेज वर्षा होगी। कई इलाके जलमग्न भी हो सकते हैं। 18 से 20 सितंबर तक बारिश की गतिविधियां जारी रहेंगी।

सीहोर में बादल छाए, अब अच्छी वर्षा का इंतजार

MP Weather
sources by youtube

MP Weather : किसानो को मिली बारिश आने से राहत ,मौसम विभाग ने सितंबर महीने में इन जिलों में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई

सीहोर में 24 घंटे में 5.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई है। बुधवार को सुबह से ही बादल छाए हुए हैं और मौसम में ठंडक घुली हुई है। जिले में कहीं-कहीं हल्की वर्षा हुई। मौसम विभाग की माने तो आगामी पांच दिनों में चार इंच वर्षा हो सकती है।

read more: Onion Price Update : प्याज की बढ़ती कीमतों पर सरकार ने लगाई रोक , अब मात्र 25रुपए किलो मिलेगा प्याज ,जाने अपने शहर का ताजा भाव

मौसम ठंडा होने के कारण से फसलें जो मुरझा रही थी, उन्हें थोड़ी राहत मिली है। मौसम विभाग के अनुसार मौसम में बदलाव होने के कारण तापमान में करीब 5 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। आगामी पांच दिनों तक हल्की बारिश होने की संभावना है। इस दौरान करीब चार इंच बरसात होगी। यदि इस समय बारिश होती है तो फसलों को फायदा होगा।

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार इसके पीछे की मुख्य वजह उत्तर-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी से चक्रवाती घेरा और निम्न दाब क्षेत्र के सक्रिय होना है। बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण 10 से 12 सितंबर के आसपास बंगाल की खाड़ी से एक और सिस्टम सक्रिय होगा। इस सिस्टम से पूरे प्रदेश में हल्की से मध्यम वर्षा जारी रहेगी। प्रदेश में 18 से 20 सितंबर तक वर्षा की सक्रियता रहेगी। बता दें प्रदेश में अब तक सामान्य से 19 फीसदी कम वर्षा हुई है।

इन जिलों में वर्षा का अलर्ट

प्रदेश में टीकमगढ़, निवाड़ी, उज्जैन, आगर जिलों में आरेंज अलर्ट जारी किया गया है। वहीं सीहोर, राजगढ़, हरदा, खंडवा, बुरहानपुर, खरगोन, अलीराजपुर, झाबुआ धार, इंदौर, देवास, शाजापुर, गुना, अशोकनगर, दतिया, सतना, अनूपपुर, शहडोल, उमरिया, कटनी, मंडला, बालाघाट, पन्ना, दमोह, सागर, छतरपुर में भारी वर्षा का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

MP Weather : किसानो को मिली बारिश आने से राहत ,मौसम विभाग ने सितंबर महीने में इन जिलों में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई

Description :आज हमने आपको इस पोस्ट में मौसम से जुड़ी पूरी जानकारी दी है जिसको हमने सोशल मीडिया न्यूज़पेपर के माध्यम से एकत्रित करके आपको अपडेट दिए इसमें कोई त्रुटि हो तो हमारी वेबसाइट TodayMandiBhav.net की कोई जिम्मेदारी नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *